Corona के संकट के समय आया विजय माल्या का ट्वीट, लिखा – ‘बैंकों को पैसा लौटाना चाहता हूं’

Spread the love

भारत समेत पूरी दुनिया में खतरनाक कोरोना वायरस का कहर जारी है। अमेरिका, इटली और जर्मनी जैसे अच्छी चिकित्सा व्यवस्था वाले देश कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित हैं। भारत की में भी अब कोरना पीड़ितों की तादाद बढ़ रही है। लेकिन इसे रोकने को लेकर भारत सरकार और देश की चिकित्सा व्यवस्था लगातार प्रयास कर रही है। पूरे देश में पहले से ही लॉकडाउन का ऐलान हो चुका है। ऐसे माहौल के बीच देश के भगौड़े घोषित हो चुके शराब कारोबारी विजय माल्या ने ट्वीट करके फिर से बैंकों का बकाया चुकाने की इच्छा जताई है।

विजय माल्या ने मंगलवार को एक बार फिर किंगफिशर एयरलाइंस द्वारा उधार ली गई राशि बैंकों को वापस करने की लेकर ट्वीट किया है। माल्या ने ट्वीट किया,
‘मैंने KFA द्वारा बैंकों से उधार ली राशि का 100 प्रतिशत भुगतान करने के लिए कई बार प्रस्ताव दिया है। न तो बैंक धनराशि लेने के लिए तैयार हैं और न ही ईडी अपने अटेचमेंट जारी करने को लेकर तैयार है, जो उन्होंने बैंकों की तरफ से दायर किए हैं।’

माल्या ने वर्तमान स्थिति का सहारा लेते हुए आगे लिखा, ‘मुझे उम्मीद है कि वित्त मंत्री इस संकट के इस समय में मेरी बात सुनेंगी।’

ये भी पढ़े - क्या 14 अप्रैल के बाद भी जारी रहेगा लॉकडाउन? जानिए

9 हजार करोड़ की धोखाधड़ी का है मामला

दरअसल ED कथित रूप से करीब 9,000 करोड़ रुपए के धोखाधड़ी और मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में माल्या की तलाश में है। वहीं लॉकडाउन के बाद माल्या की सभी कंपनियों ने भारत में संचालन और विनिर्माण बंद कर दिया है। जिसके बाद माल्या का यह ट्वीट सामने आया है।

माल्या ने सरकार से मांगी मदद

आपको बता दें कि विजय माल्या इससे पहले भी ट्वीट के जरिए बैंकों का पैसा लौटाने की इच्छा जता चुका है। लेकिन वह पिछले चार सालों से लंदन में है और खुद भारत आने को तैयार नहीं है।
माल्या ने अब सरकार से मदद मांगते हुए कहा है कि, हम कर्मचारियों को घर नहीं भेज रहे हैं और व्यर्थ लागत का भुगतान कर रहे हैं। सरकार को मदद करनी होगी।