उत्तराखंड में यह इलाके बने कंटेनमेंट जोन पूरी तरह हुए सील, देखे पूरी लिस्ट

Spread the love

उत्तराखंड लॉक डाउन का असर अब दिखने लगा राज्य में कोरोनावायरस कोविड-19 के संक्रमित मामले दिन-प्रतिदिन कम होते जा रहे हैं जो कि राहत भरी खबर है लेकिन हालात चिंताजनक इसलिए हैं क्योंकि मौत का आंकड़ा कम नहीं हो रहा है। साथ ही राज्य में कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़ती ही जारी रही है। राज्य के 13 जिलों में 561 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं, जिनमें सर्वाधिक देहरादून तथा सबसे कम बागेश्वर जनपद में बनाए गए हैं।

13 जिलों में 561 कंटेनमेंट जोन की सूची

देहारदून

कंटेनमेंट जोन की सर्वाधिक संख्या राजधानी देहरादून में है, जहां 116 प्रतिबंधित क्षेत्र बनाए गए हैं जिनमें से राजधानी देहरादून में 73, डोईवाला में 10, विकास नगर तथा चकराता में 09-09, त्यूणी 06, कालसी 05 तथा ऋषिकेश में 04 है।

उधमसिंह नगर

उधमसिंह नगर में गदरपुर में 28, रुद्रपुर में 27, खटीमा में आठ, सितारगंज में पांच, काशीपुर तथा किच्छा में एक-एक कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं।

नैनीताल

नैनीताल जिले के हल्द्वानी में 45, कौश्या कुटोली 05, नैनीताल 03 तथा रामनगर में 02 प्रतिबंधित क्षेत्र बनाए गए हैं।

हरिद्वार

हरिद्वार में 37, रुड़की 06 और लक्सर में 04 कंटेनमेंट जोन बनाए गए। वहीं पिथौरागढ़ जिले में 09 तथा बागेश्वर जिले में 02 प्रतिबंधित क्षेत्र, जिनमें 01 बागेश्वर तथा 01 कापकोट में है। चंपावत में बनाए गए 34 प्रतिबंधित क्षेत्र में से टनकपुर 15, चंपावत 12, लोहाघाट 4, भाडा़कोट 02 तथा पाती 01 है।

रुद्रप्रयाग

रुद्रप्रयाग जनपद के अंतर्गत रुद्रप्रयाग में 15, उखीमठ तथा जखोली में 4-4, तथा बसुकेदार में एक कंटेनमेंट जोन है वहीं टिहरी जिले के कंडीसौड़ 06, देवप्रयाग 04
टिहरी गढ़वाल 17 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं।

पौड़ी गढ़वाल

पौडी जनपद के कोटद्वार में 12, पौडी 03, श्रीनगर तथा लैंसडाउन में दो-दो, तथा चकीसैंण तथा सतपुली में 01-01 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं।

अल्मोड़ा

अल्मोड़ा जिले में 20 प्रतिबंधित क्षेत्र बनाए गए हैं, जिनमें अल्मोड़ा 5, भानोली 3, स्यालदे 04, सोमेश्वर तथा रानीखेत 02-02 तथा सल्ट, द्वाराहाट, भिकियासेन और लमगाडा़ में एक-एक कंटेनमेंट जोन है।

चमोली

चमोली जनपद में 16 प्रतिबंधित क्षेत्र बनाए गए हैं। जोशीमठ चार, कर्णप्रयाग गैरसैंण और पोखरी में 3-3, घट में 02 तथा नारायणगढ़ में एक कंटेनमेंट जोन है।