उत्तराखंड: देश में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने लिया फैसला, सीमाओ पर फिर होगी रैंडम सैंपलिंग

Spread the love

देश कुछ दिनों की शांति के बाद कोरोना संक्रमण के मामले में एक बार फिर से तेज़ी देखने को मिल रही हैं। भारत में पिछले कुछ दिनों से एक बार फिर कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं, जबकि पूरे देश में कोरोना वैक्सीनेशन की प्रक्रिया चल रही है।इसके बावजूद ही भी संक्रमण बढ़ रहा है। जानकारों की माने तो इसका कारण लोगो की बढ़ती लापरवाही है। लोगों ने जैसे ही शारीरिक दूरी का पालन करने और मास्क लगाने की अनिवार्यता में लापरवाही शूरू की, वायरस ने अटैक कर दिया। भारत में कई राज्यों के कई क्षेत्रों में लाॅकडाउन लगाने की नौबत तक आ गई है।कोरोना वायरस की वैक्सीन के आने के बाद लगा था कि देश जल्द इस बीमारी को पीछे छोड़ देगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। एक बार फिर कोरोना वायरस के आंकड़े पिछले साल की तरह बढ़ने लगे। कोरोना वायरस की तीसरी लहर ने प्रशासन को प्लान बी बनाने में मजबूर कर दिया है। कुछ दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के सभी मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक ली थी और कोरोना वायरस के मामलों को रोकने हेतु सुझाव मांगे थे।

इसे भी पढ़े: अब ड्राइविंग लाइसेंस (DL) बनवाने में होगी मुस्किल, लागू होने वाले है नए नियम

 

कोरोना वायरस के रोकधाम के लिए उठाया यह कदम

अब जिला प्रशासन भी अपने स्तर पर कोरोना वायरस के रोकधाम के लिए कदम उठा रहा है। देहरादून में पहले की तरह रैंडम सैंपलिंग शुरू हो गई है। जिलाधिकारी डा. आशीष श्रीवास्तव ने शनिवार को इस संबंध में जिले के सभी अधिकारियों के साथ बैठक की। जिन राज्यों में कोरोना वायरस के मामले ज्यादा आए हैं वहां से देहरादून पहुंचने वालों पर नजर रखी जाएगी। देश के कई हिस्सों में कोविड के मामले बढ़ने के बाद देहरादून जिला प्रशासन ने भी एहतियातन उपाय शुरू कर दिए हैं। जिलाधिकारी डॉ. आशीष कुमार श्रीवास्तव ने संबंधित विभागों की बैठक लेते हुए कोविड संक्रमित क्षेत्रों से आने वालों की रैंडम सैंपलिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने रेलवे स्टेशन, आईएसबीटी, एयरपोर्ट और बॉर्डर पर रोजाना होने वाली जांच की संख्या बढ़ाने के भी निर्देश दिया।

इसे भी पढ़े: उत्तराखंड में जल्द शुरू होगा नया शैक्षिक सत्र, शिक्षा मंत्रालय ने जारी किए निर्देश

 

 सीमाओं पर रैंडम सैंपलिंग की आदेश किए जारी

जिलाधिकारी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्य चिकित्साधिकारी, नगर निगम, पुलिस विभाग और सभी उपजिलाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमण वाले क्षेत्रों से आने वाले लोगों को लेकर अतिरिक्त सतर्कता बरतने की जरूरत है। इसलिए सीमा चेक पोस्ट आशारोड़ी, कुलहाल, रायवाला और रेलवे स्टेशन, आईएसबीटी व एयरपोर्ट पर निगरानी रखी जाए। किसी भी व्यक्ति में अगर लक्षण दिखें तो उसकी तुरंत जांच कराई जाए। 

उन्होंने बताया कि अभी कुछ स्थानों पर जांच की जा रही है, जिसकी संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने सभी एसडीएम को अपने-अपने क्षेत्रों में कोरोना जागरूकता के कार्यक्रमों में तेजी लाने और लोगों को मास्क, सैनिटाइजेशन, सोशल डिस्टेंसिंग व सुरक्षा उपाय अपनाने के लिए प्रेरित करने के निर्देश भी दिए। साथ ही पुलिस के साथ समन्वय करते हुए सार्वजनिक स्थानों और बाजारों में मास्क व सोशल डिस्टेसिंग का पालन सुनिश्चित कराने को भी निर्देशित किया।