उत्तराखंड बोर्ड: बिना परीक्षा के पास होंगे 10वी के विद्यार्थी, जाने किस आधार पर मिलेंगे अंक

Spread the love

उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद द्वारा कोरोना संक्रमण के चलते निरस्त हुई दसवीं की परीक्षा में छात्र छात्राओं को प्रोन्नत करने के लिए मानक तय करने शुरू कर दिए है। सूत्रों की मानें तो नवीं में मिले प्राप्तांक के आधार पर छात्र को दसवीं में नंबर दिए जाएंगे, जिसके तहत 10 वी के छात्र छात्राओं को नवीं में मिले अंकों के आधार पर दसवीं में नंबर दिए जाएंगे। जिसके लिए उत्तराखंड विद्यालय शिक्षा परिषद द्वारा इन दिनों विद्यालयों से छात्रों की नवीं व दसवीं में आतंरिक मूल्यांकन के अंकों की डिटेल मांगी है।बता दें कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने हाई स्कूल की परीक्षा को निरस्त कर दिया है। साथ ही हाई स्कूल के छात्र छात्राओं को अगली कक्षा में प्रमोट करने का निर्णय लिया है।

 


इसे भी पढ़े: उत्तराखंड आने की है तैयारी, तो पहले पढ़ले यह सभी नियम

इस आधार पर दिए जाएंगे अंक

इस बार उत्तराखंड विद्यालय शिक्षा परिषद की दसवीं में 148355 व 12 वीं में 122184 छात्र पंजीकृत हैं। परिषद द्वारा हाई स्कूल के छात्रों को प्रमोट करने के लिए राज्य भर के विद्यालयों से छात्र-छात्राओं द्वारा ऑनलाइन माध्यम से किया गया शिक्षण कार्य, बनाए गए प्रोजेक्ट वर्क, आतंरिक मूल्याकंन व गृह कार्य व कक्षा नौ की वार्षिक परीक्षा में छात्र को मिले प्राप्तांक व उपस्थिति, दसवीं में मासिक परीक्षा में मिले छात्रों के प्राप्तांक समेत अनेक बिंदुओं पर जानकारी मांगी गई है। जिसके आधार पर ही छात्रों को अगली कक्षा में प्रोन्नत किया जाएगा।

 

इसे भी पढ़ें: RCB के 4 खिलाड़ी जिन्हें प्रदर्शन नही बल्कि, विराट कोहली की वजह से मिली टीम इंडिया में जगह

प्रतियोगी परीक्षाओं की तर्ज पर हो सकती है 12वीं की परीक्षा

उत्तराखंड बोर्ड की 12वीं की परीक्षा बहुविकल्पीय प्रश्नों के आधार (एमसीक्यू) पर कराए जाने को लेकर विचार किया जा रहा है। हाल ही में शिक्षा मंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में विभागीय अधिकारियों ने कहा कि इससे परीक्षा का समय कम होगा। वहीं रिजल्ट भी जल्द घोषित किया जा सकेगा। परंपरागत तरीके से परीक्षा पर भी चर्चा हुआ, लेकिन कोई अंतिम निर्णय नहीं हो सका। विभागीय मंत्री ने कहा कि जल्द ही बैठक कर परीक्षा को लेकर कोई अंतिम निर्णय लिया जाएगा।