बॉलीवुड की तमाम बहसों के बीच सोशल मीडिया पर फिर से छाए सोनू सूद, इस काम के लिए सभी कर रहे तारीफ

Spread the love

पिछले कुछ महीनों से बॉलीवुड सेलिब्रिटीज़ के बीच नेपोटिज्म की बहस छिड़ी हुई है। कई सेलिब्रिटीज़ एक-दूसरे पर कई तरह के आरोप लगा रहे हैं। लेकिन फिल्मी दुनियां में मचे इस शोर के बीच एक एक्टर ऐसा भी है, जो चुप चाप गरीबों और जरूरतमंदों की मदद करके तारीफ और सुर्खियां बटोर रहा है। इस बॉलीवुड एक्टर का नाम है सोनू सूद।

दरअसल देश में जब से कोरोना का कहर शुरू हुआ है, उसी समय से सोनू सूद लोगों की मदद करने में जुटे हुए हैं। लॉकडाउन के दौरान सोनू प्रवासियों के लिए मसीहा बनकर उभरे थे। इस दौरान उन्होंने हजारों प्रवासियों को स्पेशल ट्रेन, बसों और फ्लाइट के जरिए उनके घर पहुंचाया था। वहीं अब सोनू सूद का नाम सोशल मीडिया पर एक बार फिर चर्चा में है।

इसे भी पढ़े: अगर अभी तक अपने आधार को पेन से लिंक नहीं करवाया है तो पड़ सकता है महंगा – ऐसे करे लिंक

इस वजह से हो रही है,देश भर में सोनू सूद की तारीफ

सोनू सूद ने अब अपनी मां के नाम पर स्कॉलरशिप का ऐलान किया है। जिसमें वह गरीब बच्चों की पढ़ाई लिखाई से लेकर खाने पीने और रहन सहन तक का खर्चा उठाएंगे। सोनू सूद ने एक बार फिर अपने फैसले से करोड़ों लोगों का दिल जीत लिया है।

सोनू सूद ने अपनी मां सरोज जोकि पंजाब के मोगा में बच्चो को मुफ्त में पढ़ाती थी। सोनू सूद ने अपनी मां के इसी काम को आगे बढ़ाते हुए गरीब बच्चो के लिए स्कॉर्लशिप का ऐलान किया है। इस स्कॉलरशिप के तहत उन बच्चो को मदद मिलेगी जोकि अपनी पढ़ाई का खर्च नहीं उठा पाते है। इसकी जानकरी सोनू सूद ने अपने ट्वीट के जरिए दी है। सोनू सूद ने कहा “हमारा भविष्य हमारी काबिलियत और हमारी मेहनत तय करेगी! हम कहा से है, हमारी आर्थिक स्थिति से इसका कोई संबंध नहीं। मेरी एक कोशिश इस तरफ – स्कूल के बाद की पधाई के लिए full scholarship – ताकि आप बढे और देश की तरक्की में योगदान दे।

इसे भी पढ़े: ये हैं दुनियां के 10 सबसे अमीर एक्टर, दो भारतीयों के नाम भी शामिल

कैसे मिलेगा इस योजना का लाभ

सोनू सूद की यह स्कॉलरशिप योजना मेडिसन, आर्टिफसियाल इंटेलीजेंस, रोबोटिक्स ऑटो मोसन साइबर सुरक्षा, डाटा साइंस, फैसन जैसे अन्य कोर्स के लिए मिलेगी।
यह स्कॉलरशिप उन लोगों को मिलेगी जिनकी सालाना इनकम 2 लाख रुपए से कम है। साथ ही उस स्टूडेंट का एकेडमिक रिकॉर्ड भी अच्छा होना चाहिए। बच्चा मेहनती होना चाहिए।