विश्व का सबसे बड़ा तीर्थस्थल बनाने की तैयारी में राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट! जल्द होगा मंदिर निर्माण तारीख का ऐलान

Spread the love

राम मंदिर को लेकर बनाए गए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की 15 दिन बाद एकादशी को बैठक होनी है। इस बैठक में मंदिर निर्माण की तारीख को सुनिश्चित किया जाना है। जानकारी के अनुसार ट्रस्ट अयोध्या में राम मंदिर को दुनिया के सबसे बड़े सनातन धर्म का केंद्र बनाना चाहता है। साथ ही ट्रस्ट की तैयारी है कि मंदिर क्षेत्र का विस्तार वेटिकन सिटी और मक्का की मस्जिद से बड़े इलाके में किया जाए।

जानकारी के मुताबिक ट्रस्ट 111 एकड़ में राम मंदिर तीर्थ का निर्माण करने पर विचार कर रहा है। जबकि ईसाइयों का तीर्थ वेटिकन सिटी 110 एकड़ और मक्का मस्जिद 99 एकड़ में है। वर्तमान में ट्रस्ट के पास मंदिर के लिए 70 एकड़ जमीन है। लेकिन ट्रस्ट के सदस्यों ने आसपास की संभावित जमीनों का जायजा भी लिया है। जिसमें अरविंदो आश्रम 3 एकड़ जमीन देने के लिए तैयार है। वहीं राम मंदिर के मॉडल को लेकर विहिप द्वारा बनाए गए मॉडल पर ट्रस्ट के सभी सदस्य आम राय बना चुके हैं। लेकिन मंदिर की ऊंचाई पर अभी तक कोई फैसला नहीं हो पाया है।

दुनियां की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना भारत, ब्रिटेन और फ्रांस की छोड़ा पीछे

पीएम मोदी के पूर्व प्रधानसचिव को बनाया गया मंदिर समिति का चेयरमैन

सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर के पक्ष में फैसला देने के बाद केंद्र सरकार को मंदिर निर्माण के लिए एक ट्रस्ट बनाने की जिम्मेदारी दी थी। जिसके बाद राम जन्मभूमि न्यास महंत नृत्य गोपाल दास ट्रस्ट का अध्यक्ष और विश्व हिंदू परिषद के चंपत राय को महासचिव बनाया गया। कोषाध्यक्ष पद का जिम्मा स्वामी गोविंद देव गिरि को दिया गया। तो वहीं मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन के पद के लिए प्रधानमंत्री मोदी के पूर्व प्रधानसचिव नृपेंद्र मिश्र को चुना गया। अब 15 दिन बाद (4 अप्रैल) अयोध्या में होने वाली बैठक में निर्माण समिति द्वारा अपनी रिपोर्ट रखी जाएगी, जिसके बाद समिति द्वारा मंदिर निर्माण की तारीख पर फैसला होगा।