आर अश्विन ने बनाया विश्व रिकॉर्ड, श्रीलंका के मुरलीधरन को छोड़ा पीछे

Spread the love

दूसरे टेस्ट मैच मे भारत ने विराट कोहली की गैर मौजूदगी में खेला। बॉक्सिंग डे टेस्ट में भारत ने अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में शानदार प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराकर टेस्ट सीरीज में 1-1 की बराबरी कर ली है। दूसरे टेस्ट मैच मे ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 195 रन बनाए थे। उसके जवाब में भारत ने पहली पारी में कप्तान अजिंक्य रहाणे की शानदार शतकीय पारी की बदौलत 326 रन बनाकर 131 रन की महत्वपूर्ण बढ़त हासिल की थी। उसके बाद दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 200 पर सिमट गई। दूसरी पारी में भारत की जीत के लिया 70 रन बनाने थे,भारत ने 2 विकेट खोकर आसानी से जीत हासिल कर सीरीज में वापसी की। इस जीत के हीरो रहे कप्तान अजिंक्य रहाणे को मैन ऑफ़ द मैच चुना गया।

अश्विन ने बनाया रिकॉर्ड मुरलीधरन को पीछे छोड़ा

टीम इंडिया के खतरनाक स्पिनर आर अश्विन ने दूसरे टेस्ट में अच्छी गेंदबाजी करते हुए टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई है। साथ ही अश्विन ने मैच में एक रिकॉर्ड भी अपने नाम किया। दूसरी पारी में हैजालवुड का विकेट लेने के साथ ही अश्विन ने श्रीलंका के पूर्व स्पिनर मुथैया मुरलीधरन का बड़ा रिकॉर्ड तोड़ डाला । टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा बाएं हाथ के बल्लेबाजों को आउट करने का रिकॉर्ड मुरलीधरन के नाम दर्ज था, लेकिन अब यह रिकॉर्ड अश्विन के नाम दर्ज हो गया है। टेस्ट क्रिकेट में अश्विन ने कुल 375 विकेट लिए हैं, जिसमें से 192 बल्लेबाज लेफ्ट हैंडर्स रहे हैं। मुरलीधरन की बात करें तो उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में कुल 800 विकेट लिए, जिसमें 191 लेफ्ट हैंडर्स बल्लेबाज शामिल रहे।

दुसरे मैच में  जीत के बाद कप्तान रहाणे ने कि इन दो खिलाडियों की तारीफ

बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में ऑस्टलिया को 8 विकेट से हराकर भारत ने 4 मैचों की सीरीज को 1-1 बराबर कर दिया है। जीत के बाद कप्तान रहाणे ने कहा पहले मैच में हारने के बाद टीम ने जिस तरह वापसी की काबिले तारीफ़ है। अजिंक्य रहाणे ने जीत के बाद सभी खिलाड़ियों की जमकर तारीफ की है। अजिंक्य रहाणे ने मैच में डेब्यू करने वाले युवा खिलाड़ी शुभमन गिल ओर मोहम्मद सिराज की जमकर तारीफ की है। रहाणे ने सिराज की गेंदबाजी ने दिखाए अनुशासन कि तारीफ करते हुए उन्होंने कहा अपना पहला मैच खेलते समय जिस तरह की बॉलिंग सिराज ने कि है वह बहुत मुश्किल होता है।