उत्तराखंड आने की है तैयारी, तो पहले पढ़ले यह सभी नियम

Spread the love

उत्तराखंड सरकार कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए निरंतर प्रयास कर रही है। लॉक डाउन के बाद राज्य में कोरोना वायरस का संक्रमण थोड़ा कम हुआ हैं, लेकिन अभी राज्य में कोरोनावायरस का संक्रमण बरकार है। जिसको देखते हुए राज्य सरकार ने कोरोना कर्फ्यू को 1 जून तक जारी रखने के आदेश जारी कर दिए। साथ ही सरकार ने अन्य राज्य से उत्तराखंड में आने वाले सभी यात्रियों के लिए नई गाइडलाइन जारी कर दी है।

 

गाइडलाइन के अनुसार के अब इन नियमो का करना होगा पालन 

  • उत्तराखंड के मैदानी जिलों से पर्वतीय जिलों में जाने वाले लोगों के लिए 72 घंटे की आरटीपीसीआर निगेटिव रिपोर्ट दिखानी अनिवार्य कर दी गई है।
  • आगामी एक जून तक सभी यात्री वाहनों में क्षमता के 50 फीसदी यात्रियों को ही बैठने की अनुमति होगी।
  • वाहनों के लिए एक जिले से दूसरे जिले या एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने पर सैनिटाइजेशन करना अनिवार्य कर दिया गया है।
  • प्रदेश सरकार द्वारा जारी की गई नई एसओपी के अनुसार राज्य के भीतर या राज्य के बाहर वाहनों के संचालन में पूर्ण रूप से कोविड नियमों का पालन करना होगा।
  • कोई भी वाहन 50 फीसदी यात्री क्षमता के अतिरिक्त यात्री नहीं बैठाएगा और न ही अतिरिक्त किराया वसूलेगा।
  • हर यात्रा के बाद वाहन के प्रवेश द्वार, हैंडिल, स्टेयरिंग, रेलिंग, गीयर लीवर और सीटों पर सैनिटाइजेशन कराना अनिवार्य होगा। 
  • वाहन चालकों व परिचालकों को फेस मास्क व ग्लब्स अनिवार्य रूप से पहनने होंगे।
  • अंतरराज्यीय या अंतरजनपदीय यात्रा के दौरान वाहन में प्रवेश करने वाले हर यात्री की थर्मल स्कैनिंग जरूरी होगी।
  • चालक-परिचालकों के साथ ही यात्रा करने वाले सभी यात्रियों को अपने मोबाइल पर आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना अनिवार्य होगा। ।
  • यात्रियों के लिए भी मास्क अनिवार्य है। 
  • यात्रा करते समय पान, तम्बाकू, गुटका एवं शराब आदि का सेवन प्रतिबंधित रहेगा। वाहन में थूकना दंडनीय होगा।