कोरोना संकट के बीच पीएम मोदी का अफसरों को निर्देश, बोले – राज्यों के साथ मिलकर तैयार करें इमरजेंसी प्लान

Pm Modi Direction To Officers
Spread the love

शनिवार को प्रधानमंत्री ने देश में बढ़ते कोरोना संकट के चलते वरिष्ठ मंत्रियों और अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में पीएम ने कोरोना महामारी से लड़ाई में राष्ट्रीय स्तर पर उठाए गए कदमों की समीक्षा की। इस बैठक में कई वरिष्ठ मंत्री और अधिकारियों के अलावा गृह मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, पीएम के मुख्य सचिव, कैबिनेट सचिव व आईसीएमआर के डीजी शामिल थे। प्रधानमंत्री ने बैठक के दौरान उन राज्यों की स्थिति का जायजा भी लिया, जहां पिछले दिनों से कोरोना संक्रमण की रफ्तार में बहुत तेजी देखने को मिली है।

इसे भी पढ़े:  उत्तराखण्ड में इन तीन शहरों के बीच दौड़ेगी मेट्रो, अभी से किराया भी जान लीजिए

इस बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने महामारी के चलते देश और राज्यों की वर्तमान स्थिति और भविष्य की तैयारियों की समीक्षा भी की। पीएम ने स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के साथ बात करके इमरजेंसी प्लान तैयार किया जाए। साथ ही पीएम ने मानसून की शुरुवात को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय को तैयारियां सुनिश्चित करने को कहा। पीएम मोदी की इस बैठक के दौरान देश के अलग-अलग राज्यों में कोरोना मामलों की लेकर प्रेजेंटेशन दी गई। जिसमें बताया गया कि देशभर में कुल कोरोना मामलों का दो तिहाई हिस्सा केवल पांच राज्यों में है।

दिल्ली में कोरोना से निपटने के लिए योजना हो तैयार

राजधानी दिल्ली में महामारी के चलते मौजूदा हालात और तेजी से फैल रहे संक्रमण पर भी चर्चा हुई। साथ ही कोरोना के चलते दिल्ली की स्थिति का दो महीनों का पूर्वानुमान भी लगाया गया। प्रधानमंत्री मोदी ने गृह मंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को दिल्ली के मुख्यमंत्री व उपराज्यपाल के साथ आपात बैठक बुलाने की सलाह भी दी। पीएम ने सुझाया कि इस बैठक में भारत सरकार, दिल्ली सरकार और एमसीडी के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद हों, जिससे दिल्ली में बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए एक साझा योजना बनाई जा सके।

इसे भी पढ़े: भारतीय क्रिकेट टीम का श्रीलंका दौरा रद्द, लेकिन इस महीने हो सकता है IPL 2020

संक्रमितों की सूची में चौथे नंबर पर भारत

दरअसल देश में कोरोना संक्रमण का संकट गहराता जा रहा है। भारत में अभी तक 3 लाख 8 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमित पाए जा चुके हैं। इसके साथ ही भारत सबसे ज्यादा संक्रमितों की सूची में विश्व में चौथे नंबर पर पहुंच गया है। इसके अलावा 8,884 मरीजों की मौत हो चुकी है। हालांकि भारत में अभी तक 1 लाख 54 हजार से ज्यादा मरीज ठीक भी हो चुके हैं। लेकिन देश में प्रतिदिन 10 हजार से ज्यादा संक्रमित मिलने के बाद स्थिति बिगड़ रही है। इस पर काबू पाना स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती साबित हो रहा है।