Mirzapur season 3: क्या मुन्ना और कालीन भैया वास्तव में भाई हैं – पिता और पुत्र नहीं?

mirzapur season 3
Spread the love

अमेजन प्राइम की चर्चित वेब सीरीज ‘मिर्ज़ापुर.’ (Mirzapur) पंकज त्रिपाठी , अली फ़ज़ल और दिव्येन्दु शर्मा स्टारर मिर्ज़ापुर के दो सीजन आ चुके हैं और जैसा रुख दोनों ही सीजंस पर फैंस का रहा है उन्हें इंतजार है मुर्ज़ापुर 3 (Mirzapur 3 Release Date) का। हर कोई जानना चाहता है कि कालीन भइया का क्या हुआ? क्या मिर्ज़ापुर की गद्दी मुन्ना को मिलेगी या फिर अब मिर्ज़ापुर की बादशाहत बदले की आग में तड़पडते गुड्डू पंडित के हिस्से आएगी?

जैसी इस सीरीज की फैन फॉलोइंग रही है सवालों का पूरा पुलिंदा तैयार है। बाकी दर्शकों के बीच एक्साइट मेंट बना रहे इसलिए सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हुए एक से एक नई-नई जानकारियां फैंस तक पहुंचाई जा रही हैं। ऐसी ही एक जानकारी जिसने सबको हैरत में डाल दिया है वो ये कि मिर्ज़ापुर सीजन 3 में इस बात को जाहिर कर दर्शकों को हैरत में डाला जा सकता है कि मुन्ना त्रिपाठी और कालीन भइया बाप-बेटे नहीं बल्कि भाई हैं।

इसे भी पढ़े: 2021 में रिलीज होंगी Akshay Kumar की 6 फिल्में, ये रही लिस्ट

जी हां भले ही इस बात को सुनकर दर्शकीं को हैरत हो लेकिन इसमें भी कोई शक नहीं है कि सीजन 1 और सीजन 2 के बाद अब सीजन 3 के लिए सीरीज के तीसरे भाग में न केवल कहानी में बल्कि पात्रों के लिहाज से भी कई अहम परिवर्तन किए जा रहे हैं। कहा तो यहां तक जा रहा है कि बात चूंकि तीसरे सीजन को हिट कराने की है इसलिए चाहे वो प्लेटफॉर्म अमेजन प्राइम हो या फिर खुद इस सीरीज के निर्माता और निर्देशक कोई भी पीछे हटने को तैयार नहीं है और हिट कंटेंट बनाने के लिहाज से नए नए प्रयोगों को जगह दी जा रही है।

चूंकि दूसरे सीजन तक आते आते निर्माता निर्देशक भी इस बात को समझ चुके हैं कि दर्शक हल्की चीजों को बर्दाश्त नहीं करेगा इसलिए सारी कसर तीसरे सीजन में निकाली जाएगी। अब खुद सोचिए यदि तीसरे सीजन तक आते आते दर्शकों को ये पता चले कि मुन्ना त्रिपाठी और कालीन भइया बाप बेटे नहीं बल्कि भाई-भाई हैं तो सोचिए दर्शकों को कितना बड़ा झटका लगेगा ।

इसे भी पढ़े: दुनियां के 10 सबसे अमीर एक्टर, दो भारतीयों के नाम भी शामिल

सीजन एक में मुन्ना भैया (दिव्येंदु) को मिर्जापुर के किंग कालीन भैया (पंकज त्रिपाठी) के बेटे के रूप में प्रस्तुत किया गया था, जिसमें बाबू जी ने बीना को सेक्स के लिए मजबूर किया था, हो सकता है कि बाबू जी ने कालीन भैया की पहली पत्नी को भी उनके साथ सोने के लिए मजबूर किया हो ताकि त्रिपाठी वंश को आगे बढ़ाया जा सके।

इसका मतलब होगा कि कालीन भैया और उनके बेटे मुन्ना वास्तव में पिता पुत्र के बजाय भाई होंगे।