Lockdown 2.O – 3 मई तक जारी रहेगा लॉकडाउन, 20 अप्रैल के बाद कुछ इलाकों को मिलेगी रिहायत, जानें PM के संबोधन की खास बातें

Spread the love

मंगलवार सुबह 10 बजे प्रधानमंत्री ने देश को संबोधन किया। इस संबोधन में पीएम मोदी ने कहा ‘कोरोना वैश्विक महामारी के खिलाफ भारत की लड़ाई तेजी से आगे बढ़ रही है। यह संकट ऐसा है कि अन्य देशों के साथ तुलना करना सही नहीं है, लेकिन बड़े बड़े सामर्थ्यवान देशों की तुलना में भारत बहुत संभली स्थिति में है। वे देश जो एक डेढ़ महीने पहले कोरोना के मामले में भारत के बराबर खड़े थे, उन देशों में आज भारत से 25 से 30 गुना अधिक कोरोना के मामले हैं।’

इसके अलावा पीएम मोदी ने 14 अप्रैल को खत्म हो रही लॉक डाउन की अवधि को बढ़ाने की बात भी कही। पीएम ने कहा कि ‘सभी राज्य सरकारों और देश के नागरिकों की तरफ से लॉक डाउन बढ़ाने का सुझाव दिया जा रहा है। देश में लॉक डाउन को 3 मई तक बढ़ाने का फैसला किया गया है।’

20 अप्रैल से इन इलाकों में मिल सकती है रिहायत

अपने संबोधन में पीएम ने कहा ‘पूरे देश में 20 अप्रैल तक लॉकडाउन का सख्ती से पालन किया जाएगा। इसमें हर कस्बे, हर थाने, हर जिले, हर राज्य को परखा जाएगा, कि वहां लॉकडाउन का कितना पालन हो रहा है। जो क्षेत्र इस अग्निपरीक्षा में कोरोना से खुद को बचा लेगा। वहां पर 20 अप्रैल से लॉकडाउन में जरूरी गतिविधियों को अनुमति दी जाएगी।’ यह वे इलाके होंगे जिनमें अभी कोई भी कोरोना संक्रमित मरीज नहीं हैं। पीएम ने कहा इन सुरक्षित इलाकों में लॉक डाउन में ढील कुछ गाइडलाइन के साथ दी जाएंगी।

जानिए पीएम मोदी के संबोधन की अन्य खास बातें।

  • पीएम मोदी ने कहा सभी देशवासी अपने घर के उन बुजुर्गों का खास ध्यान रखें, जिन्हें पहले से कोई बीमारी हो।
  • सभी लोग गरीबों के भोजन की व्यवस्था करें।
  • पीएम मोदी ने सभी इंप्लॉयर से अनुरोध किया कि कोई भी अपने कर्मचारी को कम्पनी से ना निकालें।
  • 20 अप्रैल के बाद सुरक्षित इलाकों को मिलने वाली रिहायत के विषय में गाइडलाइन 15 अप्रैल को केंद्र सरकार द्वारा जारी की जाएंगी।
  • पीएम मोदी ने सभी देशवासियों से आरोग्य सेतु एप इंस्टाल करने की अपील भी की।