बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते उत्तराखण्ड के 4 जिलों में लॉकडाउन का ऐलान, पढ़ें जरूरी बातें

Spread the love

इस वक्त उत्तराखण्ड में अनलॉक-2 जारी है। लॉकडाउन में लगाई गई कई पाबंदियों को हटाकर लोगों को कई तरह की छूट दी गई हैं। राज्य में संक्रमण भी धीरे-धीरे खत्म होता दिख रहा था। लेकिन पिछले कुछ दिनों की बात करें तो उत्तराखण्ड में कोरोना संक्रमण के मामलों में फिर से काफी तेजी देखने को मिली। 13 जुलाई से 17 जुलाई, यानी पिछले पांच दिनों में 565 नए कोरोना संक्रमित पाए गए। तेजी से बढ़ रहे कोरोना मामलों के चलते राज्य में संक्रमण का खतरा फिर से बढ़ने लगा है। बढ़ते कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए उत्तराखण्ड सरकार ने राज्य में एक बार फिर लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है। हालांकि ये लॉकडाउन सिर्फ चार जिलों में लागू रहेगा।

इसके साथ ही लॉकडाउन का समय हर सप्ताह में दो दिन यानी हर शनिवार और रविवार को लगाने का फैसला किया गया है। इसके लिए राज्य सरकार ने कुछ दिशा निर्देश जारी किए हैं। आइए जानते हैं अब से सरकार के अगले आदेश तक हर शनिवार और रविवार को लगने वाले लॉकडाउन की शर्तों के बार में।

  • हर शनिवार और रविवार को राज्य के चार जिलों में लॉकडाउन रहेगा। ये जिले देहरादून, ऊधम सिंह नगर, नैनीताल और हरिद्वार हैं।
  • इन चारों जिलों में सभी दफ्तर और बाजार बंद रहेंगे। हालांकि आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी।
  • औद्योगिक क्षेत्रों में कार्य जारी रहेगा। कृषि व निर्माण कार्य भी जारी रहेंगे।
  •  

    शराब की दुकानों और होटलों को खोलने की अनुमति दी गई है।

  • बाहरी राज्यों से उत्तराखण्ड में यात्रा के लिए आने वालों को पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा।
  • राज्य की सीमाओं से उन लोगों को राज्य में आने दिया जाएगा, जिनके पास होटल की प्री बुकिंग का रजिस्ट्रेशन होगा।
  • राज्य में आने वालों को बिना क्वारंटाइन रूल के एंट्री मिलेगी, यदि 72 घंटे पहले कोरोना जांच कराई हो और रिपोर्ट निगेटिव हो।
  • बाहर से आने वाले लोगों को कोरोना जांच की निगेटिव रिपोर्ट साथ लानी होगी, साथ ही पोर्टल पर अपडेट भी करनी होगी।
  • दूसरे राज्यों से आने वाले प्रवासियों को आने से पहले रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। राज्य की सीमा पार करते वक्त चेकपोस्ट पर सारे चेकपोस्ट वेरिफाई होंगे।