दिसंबर तक भारत करेगा कोरोना वैक्सीन के 30 करोड़ डोज तैयार, जानिए क्या होगी कीमत

Oxford university covid19 vaccine, Covishield
Spread the love

सात महीने से ज्यादा का समय हो चुका है, पूरी दुनियां अभी भी कोरोना महामारी से जूझ रही है। हर दिन संक्रमितों की तादाद बढ़ती जा रही है। कोई भी देश इस जानलेवा वायरस को खत्म करने वाली दवा नहीं बना पाया है। लेकिन फिलहाल सभी देशों की नजर अमेरिका के ऑक्सफोर्ड में बनने वाली वैक्सीन (Covishield) पर है। क्योंकि इस वैक्सीन पर ह्यूमन ट्रायल जारी है और शुरुवाती परीक्षणों में बेहतर रिजल्ट सामने आए हैं। ऑक्सफोर्ड द्वारा तैयार की जा रही इस वैक्सीन से भारत के लोगों को भी बेहद उम्मीदें हैं। वो इसलिए, क्योंकि अगर अपने परीक्षणों में ये वैक्सीन सफल होती है, तो इसे तैयार करने वाली कंपनी 50 फीसदी वैक्सीन भारत को मुहैया कराएगी।

इसे भी पढ़े: उत्तराखण्ड के पहाड़ी इलाकों के बाद अब हरिद्वार में गिरी आसमानी आफत, देखें तबाही की तस्वीरें

दिसंबर तक 30 करोड़ डोज होंगे तैयार

यही नहीं, यदि परीक्षणों में सब कुछ सही रहा तो, दिसंबर तक भारत इस वैक्सीन के 30 करोड़ डोज का उत्पादन कर देगा। इसकी जानकारी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदर पूनावाला ने न्यूज चैनल इंडिया टुडे से बात करते हुए दी।

Oxford university covid19 vaccine, Covishield

दरअसल ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में तैयार हो रही वैक्सीन के उत्पादन में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया कंपनी की साझेदारी भी है। बता दें सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया दुनियां के वैक्सीन निर्माण करने वाली सबसे बड़ी कंपनियों में से एक है।

भारत को आधी वैक्सीन ही मिलेगी

अदर पूनावाला के बताया कि ‘यदि सब कुछ सही रहा तो वैक्सीन के भारत में बनने वाले डोज का आधा हिस्सा भारत और बाकी आधा दुनियां के अन्य देशों को देना चाहते हैं। इसमें सरकार भी सहयोग कर रही है। क्योंकि कोरोना एक वैश्विक महामारी है।’

इसे भी पढ़े: उत्तराखण्ड में मंगलवार को आए 210 नए कोरोना केस, लगातार 6वें दिन मिले 100 से ज्यादा मरीज

एक हजार तक होगी कीमत!

Oxford university covid19 vaccine, Covishield

पूनावाला ने बताया कि क्योंकि पूरी दुनियां इस महामारी से जूझ रही है, इसलिए शुरुवात में इसकी कीमत कम रखी जाएगी, इससे प्रॉफिट नहीं लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि शुरुवाती दौर में भारत में इस वैक्सीन कि कीमत 1000 रुपए के करीब हो सकती है।