लेह की लोकेशन चीन में दिखाने पर भारत ने ट्विटर को दी चेतावनी, सीईओ को लगाई फटकार

twitter
Spread the love
  • सरकार ने ट्विटर द्वारा भारत के नक़्शे को गलत तरीके से दिखने पर आपत्ति दर्ज़ कराई
  • ट्विटर ने 18 अक्टूबर को अपने प्लेटफॉर्म पर लेह की जियो टैग लोकेशन को जम्मू कश्मीर-चीन में दिखाया था

केंद्र सरकार ने ट्विटर के सीईओ जैक डोरसी (Twitter CEO Jack Dorsey) को चिट्ठी लिखी है जिसमें ट्विटर द्वारा भारत के नक्शे को गलत तरीके से दिखने पर भारत सरकार की आपत्ति दर्ज कराई गई है। दरअसल, 18 अक्टूबर को ट्विटर ने अपने प्लेटफॉर्म पर लेह की जिओ-टैग लोकेशन को जम्मू कश्मीर-चीन में दिखाया था। इस पर भारत सरकार ने कड़ी आपत्ति जताई है। आईटी सचिव अजय साहनी (Ajay Sawhney)ने ट्विटर को साफ किया है कि लेह, केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख का हिस्सा है और लद्दाख तथा जम्मू और कश्मीर भारत के अभिन्न हिस्से हैं, जो भारत के संविधान द्वारा शासित है।

इसे भी पढ़े: अब चीन को भारत की किस बात पर लगी मिर्ची?

सम्प्रभुता-अखंडता से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं

आईटी मंत्रालय के सचिव अजय साहनी ने ट्विटर को स्पष्ट शब्दों में ये भी कहा है कि ट्विटर को भारत के लोगों की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए। ट्विटर द्वारा भारत की सम्प्रभुता और अखंडता- जो नक्शे द्वारा भी परिलक्षित होती है, के साथ किया गया अपमान स्वीकार नहीं किया जाएगा और ये कानून का भी उल्लंघन होगा। ट्विटर को कड़ी चेतावनी देते हुए आईटी सचिव ने लिखा है कि ऐसे कार्यों से न सिर्फ ट्विटर की साख गिरती है बल्कि ट्विटर की तटस्थता और निष्पक्षता पर भी सवाल उठते हैं।

इसे भी पढ़े: क्या नोटों से भी फ़ैल रहा है कोरोना, जाने RBI ने क्या कहा?

सीमा पर सैन्य गतिरोध के बीच यह गलती

ट्विटर की ओर से यह गलती ऐसे वक्त की गई है, जब भारत और चीन के बीच लद्दाख में सैन्य गतिरोध बना हुआ है। दोनों सेनाएं सर्दी के मौसम में भी आमने-सामने डटी हुई हैं। भारत ने लद्दाख को लेकर चीन की बयानबाजी पर भी कड़ा प्रतिरोध दर्ज कराया है। सोशल साइट की ओर से मानचित्र मेंं गड़बड़ी को लेकर पहले भी मामले सामने आते रहे हैं।