बेंगलुरु में फेसबुक पोस्ट से भड़की हिंसा, 3 की मौत, 60 घायल, इलाके में धारा 144 लागू

Spread the love

बीते मंगलवार की रात को पूर्वी बेंगलुरु में भयानक हिंसा भड़क गई। माहौल इतना खराब हो गया कि पुलिस को भीड़ पर लाठीचार्ज करनी पड़ी। साथ ही पुलिस ने आंसू गैस के गोले भी छोड़े। जब भीड़ फिर भी काबू नहीं हो पाई, तो पुलिस ने फायरिंग कर दी। जिसमें 3 लोगों की मौत हो गई। वहीं इस घटना में 60 पुलिसकर्मियों के घायल होने की भी खबर है। घटना के बाद डीजे हल्ली और केजी हल्ली थाना क्षेत्रों में गुरुवार सुबह तक कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं पूरे बेंगलुरु में धारा 144 लागू कर दी गई है।

इसे भी पढ़ें: रूस का वैक्सीन बनाने का दावा कितना सही?

बताया जा रहा है कि यह हिंसा एक फेसबुक पोस्ट के कारण भड़की। फेसबुक पर शेयर किया गया ये पोस्ट सांप्रदायिक मुद्दे से जुड़ा था। जो कांग्रेसी विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के कथित संबंधी द्वारा शेयर किया गया। पोस्ट शेयर होने के बाद कांग्रेस विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के घर पर तोड़फोड़ भी की गई।

इस पूरे मामले में पुलिस ने कांग्रेस विधायक के भतीजे आरोपी नवीन को गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा 110 अन्य लोगों को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है। बताया जा रहा है कि इस हिंसा में 25 गाड़ियों की आग के हवाले कर दिया गया। साथ ही पुलिस स्टेशन में रखी 200 बाइक को भी जलाया गया है। इसके अलावा भीड़ ने थाने और एटीएम को भी क्षति पहुंचाई है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना को हराने में न्यूजीलैंड क्यों हो पाया सफल? जानिए

हिंसा के बारे में कमिश्नर कमल पंत ने ट्वीट करते हुए लिखा कि “डीजे हल्ली में हुई घटना में आरोपी नवीन और 110 अन्य लोगों को पुलिस पर हमला करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है।” इसके साथ ही कमिश्नर कमल पंत ने ट्वीट में लोगों से शांति बनाए रखने में पुलिस का सहयोग करने को कहा है।