देश में बढ़ रहा कोरोना संक्रमण, फिर कैसे होगा इस बार 15 अगस्त का कार्यक्रम?

indian independence day
Spread the love

कोरोना महामारी के चलते देश में सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगी हुई है। लेकिन इसी बीच 15 अगस्त भी दहलीज पर है। हर साल इस दिन देश के प्रधानमंत्री लाल किले पर ध्वजारोहण के बाद वहां उपस्थित सभी गणों और पूरे देश को संबोधित करते हैं। स्वतंत्रता दिवस के इस खास मौके पर यहां बड़ी संख्या में मेहमानों की भीड़ भी मौजूद होती है। इस बार प्रधानमंत्री मोदी ऐतिहासिक लाल किले पर ध्वजारोहण तो करेंगे, लेकिन उनके भाषण के दौरान वहां मेहमानों की भीड़ उपस्थित नहीं होगी।

इसे भी पढ़े: रूस का वैक्सीन बनाने का दावा कितना सही?

कुल 250 मेहमान रहेंगे मौजूद

इस बार कोरोना महामारी का असर देश के सबसे बड़े राष्ट्रीय पर्व स्वतंत्रता दिवस पर भी दिखेगा। गृह मंत्रालय द्वारा जारी गाइडलाइंस के अनुसार इस बार स्वतंत्रता दिवस पर कम अतिथियों को न्यौता दिया जाएगा। हर साल इस मौके पर बड़ी संख्या में स्कूली बच्चों को भी बुलाया जाता था, लेकिन इस बार स्कूल के बच्चों को भी नहीं बुलाया जाएगा। वहीं हर साल इस जश्न के मौके पर एक हजार के करीब मेहमान बुलाए जाते थे, उनकी संख्या केवल 250 तक सीमित रखी जाएगी।

PPE किट में मौजूद रहेगी पुलिस

इस 15 अगस्त को लाल किले पर सभी को मास्क पहनना जरूरी होगा। साथ ही जगह-जगह हैंड सैनिटाइजर भी होंगे। बैठने के स्थान पर भी दो सीटों के बीच की दूरी कम से कम दो गज होगी। इसके अलावा लाल किले के आस-पास मौजूद पुलिस पीपीई (PPE) किट में मौजूद होगी। जानकारी के मुताबिक इस बार केंद्रीय मंत्रियों, वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कोविड वॉरियर्स को भी न्यौता दिया जा सकता है।

इसे भी पढ़े: न्यूजीलैंड ने क्या किया जिससे 100 दिन में कोरोना का एक भी केस नहीं आया

जांच के साथ संक्रमितों की भी बढ़ी रफ्तार

कोरोना महामारी फैलने के बाद स्वतंत्रता दिवस पहला बड़ा सरकारी कार्यक्रम होगा। ऐसे में संक्रमण के खतरे के मद्देनजर तमाम जरूरी नियमों का पालन किया जाएगा। क्योंकि इस वक्त भारत में बड़ी संख्या में संक्रमित पाए जा रहे हैं। हर दिन 50 हजार के करीब कोरोना मामलों की पुष्टि हो रही है। देश में कुल संक्रमितों की बात करें तो आंकड़ा 14 लाख के करीब गया है। वहीं मरने वाले संक्रमितों की संख्या भी 32 हजार पार पहुंच चुकी है। अभी देश में 4 लाख 67 हजार से ज्यादा एक्टिव केस हैं।
बता दें कि भारत में अब बड़ी संख्या में कोरोना जांच भी की जा रही है। पिछले 24 घंटों में देश में 4 लाख 42 हजार 263 कोरोना सैंपलों जांच हुई। वहीं अब तक देश कुल 1 करोड़ 62 लाख से ज्यादा लोगों की कोरोना जांच हो चुकी है।