BJP नेता कपिल मिश्रा के भड़काऊ बयान पर गंभीर की कड़ी प्रतिक्रिया, बोले चाहे कोई भी है, कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए

Spread the love

देश की राजधानी में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के नाम पर भड़की हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है। जाफराबाद और मौजपुर समेत कई इलाकों में दो गुटों के बीच पत्थरबाजी अभी भी जारी है। इसे पहले सोमवार को भजनपुरा, गोकुलपुरी, चांदबाग, मौजपुर, जाफराबाद आदि इलाकों में CAA विरोधियों और समर्थकों के बीच हुई हिंसा में एक हेड कांस्टेबल समेत 7 लोगों को जान गवानी पड़ी है। जबकि दर्जनों लोग तथा पुलिसकर्मी घायल भी हुए हैं। माना जा रहा है कि हिंसा से कुछ समय पहले बीजेपी नेता कपिल मिश्रा द्वारा भड़काऊ बयान देने के कारण यह हिंसा भड़की। इस मामले में कपिल मिश्रा के खिलाफ दो एफआईआर (FIR) भी दर्ज हुई हैं।

इस मामले में अब दिल्ली के पूर्व क्रिकेटर और बीजेपी सांसद गौतम गंभीर की भी प्रतिक्रिया आई है। गौतम गंभीर ने एएनआई (ANI) से बात करते हुए कड़े शब्दों में कहा “कोई भी व्यक्ति हो चाहे वह कपिल मिश्रा हो या कोई और, भले ही वह किसी भी पार्टी से संबंध रखता हो, यदि उसने भड़काऊ भाषण दिया है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।”

गौरतलब है कि 22 फरवरी को दिल्ली के जाफराबाद और चांदबाग इलाके में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ कुछ प्रदर्शनकारियों ने रोड बंद कर दी थी। जिसके बाद बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने दिल्ली पुलिस के डीसीपी को धमकी भरे स्वर में कहा था कि दिल्ली पुलिस 3 दिन के अंदर रास्तों को खाली कराए। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के वापस जाने तक हम यहां से शांतिपूर्वक जा रहे हैं। लेकिन अगर 3 दिन में रास्ते खाली नहीं हुए तो फिर हम सड़कों पर उतरेंगे। इसके बाद हम दिल्ली पुलिस की भी नहीं सुनेंगे। इसके बाद से ही हिंसा भड़क गई।