Corona के डर से बेटी ने बुजुर्ग मां-बाप को घर से निकाला, अब छत पर रहने को मजबूर

Spread the love

पूरी दुनियां में कोरोना वायरस का प्रकोप एक भयावह रूप से बढ़ता जा रहा है। दुनियां के लगभग सभी देश इसके चपेट में आ गए हैं। समय के साथ-साथ वायरस का डर लोगों में अपनी पकड़ मजबूत बना रहा है। अब लोगों में कोरोना का खौफ कुछ इस स्थिति में पहुंच गया है कि वो अब बाहर से आए अपनों को भी शक की निगाह से देखने में मजबूर हैं। ऐसा ही एक मामला यूपी के औरैया जिले से सामने आया है। जहां एक बेटी ने अपने बुजुर्ग माता-पिता और भाई-भाभी को अपने घर से जाने के लिए कह दिया।

दरअसल 65 वर्षीय राजेंद्र मूल रूप से कानपुर के चौबेपुर से हैं। लेकिन काफी समय पहले वह यहां की संपत्ति बेचकर अपने परिवार के साथ दिल्ली के बदरपुर इलाके में किराए पर रह रहे हैं। उनके बेटे जितेंद्र कुमार डीटीसी बस में संविदा पर चालक हैं।

जितेंद्र ने बताया कि 5 मार्च को वह पिता, माता और पत्नी के साथ औरैया में रहने वाली बहन दीपमाला के घर गया था। यहां वो लोग कई दिन रुके, लेकिन इसी बीच लॉकडाउन हो गया। जिसके बाद बहन ने कोरोना के डर के कारण सभी को घर से जाने को कह दिया।

Corona के संकट के बीच आया विजय माल्या का ट्वीट, लिखा – ‘पैसा लौटाना चाहता हूं

इसके बाद वे लोग किसी तरह कानपुर के मंधना में पूर्व में किराए पर रह चुके घर पर पहुंचे। यहां मकान मालकिन ने रुकने के लिए यह कहकर मना कर दिया कि कमरा खाली नहीं है। बहुत प्रार्थना करने के बाद उन्होंने छत पर रहने को मंजूरी दी।