उत्तराखण्ड: मंगलवार को मिले 411 नए कोरोना मरीज, राज्य में Stage-3 में पहुंच चुका संक्रमण!

Spread the love

उत्तराखण्ड में बढ़ता संक्रमण राज्य को अधिक संक्रमितों वाले राज्यों के करीब ले जा रहा है। अब हर दिन मिलने वाले संक्रमितों की संख्या पहले से ज्यादा हो चुकी है। लेकिन संक्रमण रोकने के मामले में प्रशासन सुस्त नजर आ रहा है। लोगों के लिए भी संक्रमितों का बढ़ता आंकड़ा अब महज एक नंबर बन गया है। संक्रमण के प्रति लोगों में अब जागरूकता भी दिखाई नहीं दे रही। वहीं बढ़ते संक्रमण के बीच मंगलवार, 11 अगस्त को राज्य में 411 नए मरीज संक्रमितों की पुष्टि हुई। इसके बाद राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या 10432 पहुंच गई है।

यहां मिले नए मरीज

नए मिले संक्रमितों में सबसे अधिक मरीज फिर से हरिद्वार में सामने आए। यहां 143 मामले सामने आए। इसके अलावा  राजधानी देहरादून में 82, नैनीताल में 49, टिहरी में 39, अल्मोड़ा में 36, ऊधम सिंह नगर में 32, उत्तरकाशी में 10, पौड़ी में 9, चंपावत में 8 और रुद्रप्रयाग में 3 संक्रमित पाए गए। इसके अलावा मंगलवार को 169 मरीज स्वस्थ होकर अपने घर भी लौटे। अभी तक कुल स्वस्थ हो चुके मरीजों की संख्या 6470 हो गई है। वहीं प्रदेश में 138 मरीजों की मौत हो गई है। राज्य में कुल एक्टिव केस भी 3787 हो चुके हैं।

इसे भी पढ़े: रूस का वैक्सीन बनाने का दावा कितना सही?

किस जिले में कितने मरीज

हरिद्वार – 2392
देहरादून – 2154
ऊधम सिंह नगर – 1865
नैनीताल – 1581
टिहरी गढ़वाल – 637
उत्तरकाशी – 360
अल्मोड़ा – 334
पौड़ी गढ़वाल – 285
पिथौरागढ़ – 203
बागेश्वर – 165
चंपावत – 162
चमोली – 119
रुद्रप्रयाग – 105

इसे भी पढ़े: न्यूजीलैंड ने क्या किया जिससे 100 दिन में कोरोना का एक भी केस नहीं आया

उत्तराखण्ड में कोरोना का स्टेज 3!

दरअसल इन दिनों उत्तराखण्ड में कोरोना संक्रमण के प्रसार में काफी तेजी देखी गई है। पिछले दिनों अधिकतर मरीज ऐसे सामने आए हैं, जो संक्रमितों में संपर्क में आने के कारण कोरोना की चपेट में आए हैं। मंगलवार को हरिद्वार में पाए गए 143 मरीजों में से 36 संपर्क में आने के कारण संक्रमित हुए हैं। इसके अलावा देहरादून में 58, नैनीताल में 35 और ऊधम सिंह नगर में 6 ऐसे ही मरीज मिले हैं। संक्रमण फैलने का ये लक्षण सीधा सीधा कोरोना के स्टेज 3 में पहुंचने की ओर इशारा कर रहा है। इस पर यदि सरकार ने जल्द हो कुछ ठोस कदम नहीं उठाए, तो इससे आगे हालात और बिगड़ने के आसार हैं।