पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दिल्ली एम्स में ली आखिरी सांस, लंबे समय से थे बीमार

अरुण जेटली
Spread the love

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का दिल्ली के AIIMS (अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान) में निधन हो गया है। एम्स के डाक्टरों ने एक बयान जारी कर उनके निधन की सूचना सार्वजनिक की। उन्होंने अपने जारी बयान में कहा कि ‘बहुत दुःख के साथ सूचित कर रहे हैं कि 24 अगस्त को 12 बजकर 7 मिनट पर माननीय सांसद अरुण जेटली अब हमारे बीच में नहीं रहे।’

arun jaitely death

अरुण जेटली काफी लम्बे समय से बीमार चल रहे थे। 9 अगस्त को उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। इससे पहले अरुण जेटली कैंसर का इलाज करवाने अमेरिका भी गए थे। इसी साल मई में उनकी किडनी ट्रांसप्लांट भी की गई थी। खराब सेहत के चलते उन्होंने इस बार लोकसभा चुनाव भी नहीं लड़ा था। चुनाव से पूर्व उन्होंने एक पत्र लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा था कि स्वास्थ्य कारणों के चलते वो नई सरकार में कोई भी जिम्मेदारी नहीं लेना चाहते हैं।

ALSO READ::IAF प्रमुख बोले – हम 44 साल पुराने मिग-21 उड़ा रहे हैं, इतनी पुरानी तो कोई कार नहीं चलाता

अरुण जेटली का जन्म 28 दिसंबर 1952 को दिल्ली में हुआ था। वह पेशे से वकील थे। पिछली मोदी सरकार में उन्होंने वित्त और रक्षा मंत्री का पद भी संभाला था। 66 साल की उम्र उनका देहांत हो गया है। उनके निधन की खबर सुनकर तमाम बड़े नेता एम्स अस्पताल पहुंच रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर अरुण जेटली के निधन पर दुःख जताया है।